सं meaning in hindi

[सं० हि० प्र० ] करण कारक और उपादान कारक का चिह्न एक अव्यय जिसका व्यवहार शोभा, समानता, संगति, उत्कृष्टता, निरंतरता, औचित्य आदि सूचित करने के लिये शब्द के आरंभ में होता है जेसे,—संभोग, संयोग, संताप, संतुष्ट आदि कभी कभी इसे जोड़ने पर भी मूल शब्द का अर्थ ज्यों का त्यों बना रहता है, उसमें कोई परिवर्तन नहीं होता एक संस्कृत उपसर्ग जो कुछ शब्दों के पहले लगकर नीचे लिखे अर्थ देता है—१. संग, सहित या साथ, जैसा—संगम, संभाषण, संयुक्त आदि अच्छी या पूरी तरह से, जैसा—सतोष संन्यास, संपादन आदि उत्कृष्टता या सुन्दरता जैसा—संस्तुति विशेष-कभी-कभी इसके योग से मूल शब्द का अर्थ प्रायः ज्यों का त्यों बना रहता है, और उसमें कोई विशेषता नहीं आती जैसा—संप्राप्ति द्वारा
loading...
What is the meaning of सं in hindi? Definiton of सं? सं ka matlab kya hota hai? Janiye san ka arth
loading...